Pages

Saturday, 28 February 2015

आम बजट 2015 की कुछ मुख्य बातें

कमलाशंकर विश्वकर्मा, नई दिल्ली (28 फरवरी, 2015)
वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा शनिवार को लोकसभा में प्रस्तुत आम बजट के कुछ मुख्य बिंदु इस प्रकार हैं :
- 4000 मेगावाट के 5 अल्‍ट्रा मेगा पावर प्रोजेक्‍ट शुरू होंगे।
- टैक्‍स फ्री इन्‍फ्रास्‍ट्रक्‍चर बॉन्‍ड का ऐलान
- विदेशी मुद्रा भंडार 340 बिलियन डॉलर
- सरकार ने बढ़ाया निवेश का माहौल
- चालू खाते का घाटा 1.3 फीसदी से कम रहने की उम्मीद
- सरकार की तीन बड़ी उपलब्धियां-
1. जन-धन योजना
2. पारदर्शी कोल ब्लाक नीलामी
3. स्वच्छ भारत अभियान
- 50 लाख शौचालय का निर्माण हो चुका है
- हमारा लक्ष्य 6 करोड़ शौचालय बनाने का
- सब्सिडी पहुंचाने के लिए JAM का उपयोग
- सभी योजनाएं गरीबी केंद्रित होनी चाहिए
- 2022 तक 2 करोड़ घर बनाने का लक्ष्य
- 2015-16 में 8 फीसदी विकास दर का लक्ष्य
- प्रधानमंत्री बीमा योजना लागू होगी।
- 2020 तक सभी गांवों तक बिजली पहुंचाएंगे।
- 2022 तक गरीबी उन्‍मूलन का लक्ष्‍य।
- 2022 तक दो करोड़ घर को पूरा करने का लक्ष्‍य।
- हर गांव को संचार नेटवर्क से जोड़ने की कोशिश
- एक लाख किलोमीटर तक सड़क बनाने का लक्ष्‍य।
- सब्सिडी के लिए जेएएम आधार बनेगा।
- समावेशी विकास के लिए पूर्वोत्‍तर राज्‍यों पर जोर।
- मोदी सरकार के लिए जन धन योजना बड़ी उपलब्धि।
- 5300 करोड़ रुपये प्रधानमंत्री सिंचाई योजना के लिए आवंटित
- 250000 करोड़ रुपये किसानों को नाबार्ड के गठित फंड के जरिये मिलेंगे।
- उच्‍च आय वर्ग वाले लोग एलपीजी सुविधा न लें।
- मनरेगा के लिए 34600 करोड़ रुपये आवंटित किए गए।
- 15000 करोड़ रुपये आरईबी योजना में लागू होगा।
- गांव वालों को कर्ज देने के लिए पोस्‍ट ऑफिस का सहारा लिया जाएगा।
- पीएम बीमा योजना के तहत हर नागरिक को बीमा
- 12 रुपये प्रीमियम पर हर साल दो लाख रुपये तक का दुर्घटना बीमा
- पीएम बीमा योजना शुरू करने का ऐलान
- जीडीपी 7.4 फीसदी रहने का अनुमान
- अल्‍पसंख्‍यक युवाओं की शिक्षा के लिए नई मंजिल योजना लॉन्‍च योजना करेंगे
- अटल पेंशन योजना शुरू की जाएगी, इसके तहत 60 साल के बाद पेंशन मिलेगी। 1000 रुपये सरकार देगी और 1000 रुपये दावेदार देंगे।
- बीपीएल बुजुर्गों के लिए पीएम बीमा योजना।
- जन धन योजना में दो लाख रुपये का दुर्घटना बीमा मिलेगा।
- जन धन योजना के तहत पेंशन भी मिलेगी।
- जन धन योजना से डाकघरों को जोड़ने का प्‍लान
(Source : www.indiabudget.nic.in Union Budget 2015-16)

Thursday, 26 February 2015

रेल बजट 2015-16 की ये बातें करायेगी आपको फील गुड

Indian Railway Budget 2015-16
कमलाशंकर विश्वकर्मा, नई दिल्ली (26 फरवरी, 2015)
रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने आज अपना रेल बजट पेश किया। बजट में उन्‍होंने ऐसी कई घोषणाएं की, जिनसे रेल यात्री फील गुड कर सकते हैं. जानिए प्रभु की वो 15 बातें, जिनसे आपको होगा फील गुड.
1. शिकायत के लिए हेल्पलाइन नंबर 138 जारी.
2. रेलवे में 17 हजार जैव शौचालय (Bio Toilet) बनाए जाएंगे.
3. हिंदी, अंग्रेजी के अलावा अन्य भाषाओं में भी ई टिकट.
4. ऑनलाइन की जा सकेगी खाने की बुकिंग.
5. साफ पानी के लिए वाटर वेंडिग मशीनें लगाई जाएंगी.
6. अब बिना रिजर्वेशन वाला टिकट भी ले सकते हैं.
7. महिलाओं के डिब्बों में कैमरे लगेंगे.
8. मोबाइल चार्जिंग के लिए डिब्बों में और प्वाइंट लगेंगे.
9. व्हील चेयर की होगी ऑनलाइन बुकिंग.
10. स्टेशन में यात्रियों के लिए लगेंगी सुविधाजनक सीढि़यां.
11. वरिष्ठ नागरिकों के लिए लोअर बर्थ सुविधा बढ़ेगी.
12. सुरक्षा के लिए 182 नंबर जारी.
13. 120 दिन पहले बुक कर सकेंगे टिकट.
14. यदि आप गलती से बिना टिकट ट्रेन में चढ़ गए तो पांच मिनट में मिलेगा अापको टिकट.
15. 6 महीनों में बदलेंगे बिस्तर के डिजाइन.
(Source: www.indianrailways.gov.in Rail Budget 2015-16)

Sunday, 8 February 2015

स्वाईन फ्लू से कैसे करें बचाव: सामान्य जानकारी

+Kamlashanker Vishvakarmaनई दिल्ली (9 फरवरी, 2015) 
स्वाईन फ्लू क्या है:- स्वाईन फ्लू एक संक्रामक रोग है। यह फ्लू इन्फ्लूएन्जा ए एच1एन1 वायरस द्वारा फैलता है। पांच वर्ष से छोटे बच्चों, गर्भवती महिलाओं, 65 वर्ष से अधिक उम्र वाले व्यक्तियों एवं फेफड़ों, हृदय, लीवर, गुर्दे, मधुमेह, केंसर, एचआईव्ही आदि बीमारियों से ग्रसित लोगों को इस बीमारी का अधिक खतरा रहता है।
स्वाईन फ्लू संक्रमण:- संक्रमित व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में खांसने, छींकने से हवा में संक्रमित कणों द्वारा एवं कभी-कभी स्वाईन फ्लू से ग्रसित मरीज को छूने से भी संक्रमण फैलता है।
स्वाईन फ्लू के लक्षण:- स्वाईन फ्लू के लक्षण अन्य फ्लू के समान ही होते हैं जैसे बुखार आना, गले में खराश, नाक बहना, सिर में तथा शरीर में दर्द, सांस लेेने में परेशानी, ठंड लगना, थकान महसूस होना, बेहोशी एवं कभी-कभी उल्टी-दस्त होना। होंठ व त्वचा का रंग बैंगनी या नीला पड़ जाना।
स्वाईन फ्लू से बचाव:- सर्दी-खांसी वाले मरीज से दूरी बनाए रखें और उनसे हाथ न मिलायें। अगर आपको सर्दी-खांसी, बुखार है तो आप भीड़ वाली जगहों पर जाने से बचें एवं घर पर रहकर आराम करें। अच्छी नींद लें एवं नियमित व्यायाम करें। खांसते या छींकते समय मुंह पर रूमाल अथवा कपड़ा रखें। स्वाईन फ्लू के बचाव में मुह एवं नाक को कपड़े से ढकना, खांसने वालों से दूरी बनाए रखना, हाथो को नियमित रूप से साबुन से अच्छी तरह धोना तथा भीड़-भाड़ वाले क्षेत्रों में जाने से बचना, संतुलित एवं पौष्टिक भोजन का सेवन करना, हाथों से आंख-कान एवं मुंह छूने से बचना, बच्चों को बुखार, खांसी, गले में खराश, सांस लेने में तकलीफ होने पर उन्हें स्कूल एवं भीड़-भाड़ वाले स्थान पर न भेजे। उपरोक्त लक्षण पाए जने पर तत्काल चिकित्सक की सलाह लें। आवश्यक जांच एवं उपचार सभी जिला चिकित्सालयों में निःशुल्क उपलब्ध हैं। विस्तृत जानकारी स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाईट पर यहाँ (goo.gl/f46Qwq) क्लिक करके देख सकते है।
(Source: www.mohfw.nic.in Swine Flu Latest Updates)